Beautiful Dosti Shayari image


Beautiful Dosti Shayari image, Hindi Shayari Image, Dosti love image, Attitude Shayari image, Dosti Shayari in English, Dosti funny Shayari image, Dosti  funny Shayari Image, Hindi Shayari Dosti ke Liye, Dosti ki Shayari, Dosti Shayari in Hindi, Dosti Shayari 2 line



Beautiful Dosti Shayari image


एक पल यादों के भंवर में हमारा हो

खिलते चमन में एक गुल हमारा हो
जब याद करे आप अपने दोस्तों को
उन नमो में बस एक नाम हमारा हो

Read more

ek pal yaadon ke bhanvar mein hamaara ho khilate chaman mein ek gul hamaara ho jab yaad kare aap apane doston ko un namo mein bas ek naam hamaara ho




तेरी दोस्ती मे जिंदगी में तूफान मचायेंगे
तेरी दोस्ती में दिल के अरमान सजाएंगे
अगर तेरी दोस्ती जिंदगी भर साथ दे

हम तो दोस्ती में मौत को भी पीछे छोड आएंगे




teree dostee me jindagee mein toophaan machaayenge teree dostee mein dil ke aramaan sajaenge agar teree dostee jindagee bhar saath de ham to dostee mein maut ko bhee peechhe chhod aaenge



आपकी दोस्ती की एक नजर चाहिए

दिल है बे घर उसे एक घर चहिए

बस यूही साथ चलते रहो ऐ दोस्त

ये दोस्ती हमे उम्र भर चाहिए


aapakee dostee kee ek najar chaahie dil hai be ghar use ek ghar chahie bas yoohee saath chalate raho ai dost ye dostee hame umr bhar chaahie



फूल बनकर मुस्कुराना जिन्दगी है

मुस्कुरा के गम भूलाना जिन्दगी है

क्या हुआ मिलकर लोग खुश होते है तो

बिना मिले दोस्ती निभाना भी जिन्दगी है 



phool banakar muskuraana jindagee hai muskura ke gam bhoolaana jindagee hai kya hua milakar log khush hote hai to bina mile dostee nibhaana bhee jindagee hai



दोस्तों की कमी को पहचानते हैं

हम भी जानते हैं दुनिया के गमो को

हम आप जैसे दोस्तों का सहारा है

इसलिए हम आज भी हँसकर जीना जानते हैं



doston kee kamee ko pahachaanate hain ham bhee jaanate hain duniya ke gamo ko ham aap jaise doston ka sahaara hai isalie ham aaj bhee hansakar jeena jaanate hain



दूरियां अब इतनी हो गई हैं कि रह रह
कर सिर्फ तेरी ही गलतियां याद आती हैं |

शिकवा भी क्या कर ज़िन्दगी से सारी
               नजदीकियां सिर्फ तेरी बातें याद दिलाती हैं



dooriyaan ab itanee ho gaee hain ki rah rah kar sirph teree hee galatiyaan yaad aatee hain | shikava bhee kya kar zindagee se saaree najadeekiyaan sirph teree baaten yaad dilaatee hain |



कभी कभी दोस्ती मे ही दिल लग जाता है

दोस्तों ज़रूरी नहीं है की प्यार करने वाला ही
आपकी care करता हो  दोस्त भी कर सकता है 


kabhee kabhee dostee me hee dil lag jaata hai doston zarooree nahin hai kee pyaar karane vaala hee aapakee charai karata ho dost bhee kar sakata hai



Previous Post Next Post