Motivation for the success of life for status. Motivation Shayari image, Shayari for motivation, motivation quote, quote for success, spiritual Shayari image for life success. Share for WhatsApp status and SMS sending. Motivation Shayari image for life      




Motivation Shayari image for life
Motivation Shayari image for life      

अन्न व जल से बढ़कर कोई दान नहीं है
द्वादशी तिथि से बढ़कर कोई तिथि नहीं है
गायत्री मंत्र से बढ़कर कोई मंत्र नहीं है
तथा माता से बढ़कर कोई देवता नहीं है 

ann va jal se badhakar koee daan nahin hai dvaadashee tithi se badhakar koee tithi nahin hai gaayatree mantr se badhakar koee mantr nahin hai tatha maata se badhakar koee devata nahin hai





Motivation Shayari image for life
Motivation Shayari image for life      



दुर्बल व्यक्ति सज्जन बन जाता है
निर्धन ब्रह्मचारी बन जाता है ,
रोगग्रस्त ईश्वर - भक्त बन जाता है
और वृद्धा स्त्री पतिव्रता बन जाती है 


durbal vyakti sajjan ban jaata hai nirdhan brahmachaaree ban jaata hai , rogagrast eeshvar - bhakt ban jaata hai aur vrddha stree pativrata ban jaatee hai





Motivation Shayari image for life
Motivation Shayari image for life      


चरण धोने , पीने , संध्या कर्म करने बाद जो जल बचता है
वह श्वान मूत्र के समान तुच्छ होता है  
ऐसा जल कभी नहीं पीना चाहिए जो कोई जल पी लेता है
उसके लिए चान्द्रायण व्रत करने का विधान है 

charan dhone , peene , sandhya karm karane baad jo jal bachata hai vah shvaan mootr ke samaan tuchchh hota hai aisa jal kabhee nahin peena chaahie jo koee jal pee leta hai usake lie chaandraayan vrat karane ka vidhaan hai






जो बहुत दूर है  जिसकी आराधना करना बहुत मुश्किल है
जो बहुत ऊंचाई पर स्थित है वह सब तप के द्वारा सिद्ध
हो सकता है  क्योंकि तप बहुत प्रबल होता है 


jo bahut door hai jisakee aaraadhana karana bahut mushkil hai jo bahut oonchaee par sthit hai vah sab tap ke dvaara siddh ho sakata hai kyonki tap bahut prabal hota hai





Motivation Shayari image for life
Motivation Shayari image for life      


जैसे को तैसा वाली कहावत जग विख्यात है
इसलिए चाणक्य भी यहां कहते हैं कि
जो व्यक्ति जिसके प्रति जैसा व्यवहार करता है
उसे भी उसके प्रति वैसा ही व्यवहार करना चाहिए
कृतज्ञ के प्रति कृतज्ञता का दुष्ट के प्रति दुष्टता का
अर्थात् जो व्यक्ति जैसा है  उसके प्रति वैसा ही
व्यवहार करने में कोई हर्ज नहीं है 


jaise ko taisa vaalee kahaavat jag vikhyaat hai
isalie chaanaky bhee yahaan kahate hain ki jo vyakti jisake prati jaisa vyavahaar karata hai use bhee usake prati vaisa hee vyavahaar karana chaahie krtagy ke prati krtagyata ka dusht ke prati dushtata ka arthaat jo vyakti jaisa hai usake prati vaisa hee vyavahaar karane mein koee harj nahin hai




Motivation Shayari image for life
Motivation Shayari image for life      

यदि लोभ है तो और किसी दुर्गुण की क्या आवश्यकता है
यदि चुगलखोरी का स्वभाव है , तो और पातकों से क्या काम
और यदि जीवन में सत्य सत्यवादिता , सत्याचरण है ,
तो तप करने का क्या प्रयोजन  यदि मन पवित्र है ,
तो जलमय तीर्थों में भ्रमण और स्नान करने से क्या लाभ
यदि सौहार्द प्रेम है , तो गुणों की क्या आवश्यकता है
यदि संसार में कीर्ति फैल रही है , तो अन्य आभूषणों से
क्या प्रयोजन ? यदि श्रेष्ठ विद्या है , तो फिर धन की क्या
आवश्यकता है यदि अपयश फैला हुआ है , तो मृत्यु से क्या
अर्थात् वह तो जीते जी मरा हुआ है । 


yadi lobh hai to aur kisee durgun kee kya aavashyakata hai yadi chugalakhoree ka svabhaav hai , to aur paatakon se kya kaam aur yadi jeevan mein saty satyavaadita , satyaacharan hai , to tap karane ka kya prayojan yadi man pavitr hai , to jalamay teerthon mein bhraman aur snaan karane se kya laabh yadi sauhaard prem hai , to gunon kee kya aavashyakata hai yadi sansaar mein keerti phail rahee hai , to any aabhooshanon se kya prayojan yadi shreshth vidya hai , to phir dhan kee kya aavashyakata hai yadi apayash phaila hua hai , to mrtyu se kya arthaat vah to jeete jee mara hua hai .




Previous Post Next Post